यह अभिनेता चौदह साल से भाभी के साथ रह रहा है लिव इन रिलेशन में क्योंकि…

फ़िल्मों में एक साथ काम करने के दौरान अभिनेता और अभिनेत्रियों को एक-दूसरे से प्यार हो जाना कोई बड़ी बात नहीं है. छोटे और बड़े पर्दे में ऐसी कई जोडियाँ है जो सालों से शादी किये बिना लिव इन रिलेशन में रह रहे है.ये जोडियाँ इतने साल से एक-दूसरे के साथ रहने के बाद अभी भी अपने रिश्ते को शादी का नाम देने के बारे में नहीं सोच रही है.

छोटे पर्दे का सबसे ज्यादा मशहूर सीरियल क्योंकि सास भी कभी बहू थी तो आपको याद ही होगा. इस शो में काम करके कई अभिनेता और अभिनेत्रियों की किस्मत ही बदल गई थी. इस सीरियल ने छोटे पर्दे में आते के साथ ही छोटे पर्दे को बड़े पर्दे का दर्ज़ा दिला दिया था.क्योंकि सास भी कभी बहू थी के कुछ खास एपिसोड ने टीआरपी के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिये थे.इस सीरियल की बदौलत ही एकता कपूर को टीवी की दुनिया की रानी कहा जाने लगा.

इस सीरियल की स्टार कास्ट में आपने संदीप बसवाना और अश्लेषा सावंत को भी देखा होगा. क्योंकि सास भी कभी बहू थी सीरियल में संदीप और अश्लेषा ने साहिल विरानी और तीशा गौतम विरानी का रोल अदा किया था. सीरियल में एक दूसरे से देवर भाभी का रोल अदा करने वाले संदीप और अश्लेषा का बहुत खास रिश्ता है.

संदीप और अश्लेषा इस सीरियल में काम करने के दौरान एक-दूसरे के करीब आ गए.धीरे-धीरे इन दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई और इन दोनों को टीवी सीरियल की होने वाली पार्टियों में भी साथ देखा जाने लगा.

संदीप और अश्लेषा ने अभी तक शादी नहीं की है और यह दोनों अभी शादी करना भी नहीं चाहते. लेकिन बिना शादी किये यह दोनों 14 सालों से लिव इन रिलेशन में रह रहे हैं. इनके एक साथ रहने से संदीप और अश्लेषा के घरवालों को भी कोई दिक्कत नहीं है. अश्लेषा ने कुछ समय पहले अपने इंस्ट्राग्राम अकाउंट में दोनों की कुछ तस्वीरें डाली थी और इसमें आप इन दोनों की कैमेस्ट्री का पता लगा सकते है.

हाल ही में एक निजी अखबार को दिये अपने इंटरव्यू में संदीप ने कहा है कि मैं और अश्लेषा अच्छे दोस्त थे अश्लेषा एक दिन मेरे घर मुझसे मिलने आई और फिर कभी वापस ही नहीं गई. अभी हमारे बीच ऐसा कोई वादा नहीं है कि हम एक-दूसरे से शादी करेंगे. हम दोनों बस एक दूसरे से बेहद प्यार करते हैं.

अश्लेषा से ” शादी करने के बारे में पूछने पर संदीप ने कहा कि, “मैं एक बहुत ज्यादा प्यार करने वाले परिवार ताल्लुक रखता हूं. मेरे माता पिता की शादी को 40 साल बीत चुके हैं. लेकिन एक समय ऐसा भी आया जब मैंने रिश्तों को टूटता और जुड़ता हुआ देखा है.

मैंने और अश्लेषा ने शुरू में ही यह बात तय कर ली थी कि हम दोनों तब तक एक साथ रहेंगे जब तक हम एक दूसरे के साथ खुश हैं. रिलेशनशिप आपकी जिंदगी को आसान करते है. हम दोनों ने इस रिश्ते में आने से पहले ही तय कर लिया था कि हम एक-दूसरे के सुख-दुख में एक साथ खड़े रहेंगे लेकिन तब ही तक रहेंगे जब तक हमारे बीच में प्यार है.