लड़के इस विडियो को ना देखें,लड़कियां देखें और कुछ सीखें!

दिन-रात काम करने के बाद जब आप थककर घर आते है तो आपकों सिर्फ़ घर आकर आराम करने का मन करता है.दुनिया में सभी कामों का समय निर्धारित किया गया है.कुछ काम ऐसे होते है जो केवल दिन में ही किये जाते है और कुछ काम ऐसे होते है जो सिर्फ़ रात को होते है.आप ऑफिस के काम दिन में करते है वही आप घर आकर ऑफिस के काम करना पसंद नहीं करते.

बात कि जाए शास्त्रों की तो शास्त्रों में कुछ ऐसे कार्यो के बारे में कहा गया है, जिन्हें रात को करने से आपकी ज़िंदगी बर्बाद हो सकती है. इन सभी कार्यो के बारे में बात की जाए तो रात के समय किसी को भी शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिये. ऐसे बहुत से कार्य है जो महिलाओं को रात के समय नहीं करने चाहिये आज हम आपको ऐसे ही कुछ कार्यो के बारे में आपको बताने जा रहे है.

रात के समय ना बनाए शारीरिक संबंध: शास्त्रों में कहा गया है कि रात को 12 बजे के बाद कभी भी शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिये.ऐसा इसलिए नहीं करना चाहिए क्योंकि 12 बजे के बाद अगला दिन शुरू हो जाता है और यह समय भ्रम बेला से ठीक पहले वाला समय होता है.ऐसे समय पर आदमी की मानसिक और अध्यात्मिक शक्तियां जागृत हो जाती है.

मध्यरात्रि के कुछ समय बाद भ्रम मुहूर्त शुरू हो जाता है. ऐसे समय में व्यकित को अध्यन,मनन,ध्यान और भगवान की पूजा पाठ करनी चाहिये.कोई नई योजना बनानी हो तो नई योजना बनाने के लिए यह समय सबसे ज्यादा उचित है. लेकिन इस समय में शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिये.अगर आप रात के समय शारीरिक संबंध बनाते है तो आपका बुरा समय शुरू हो जाएगा.शारीरिक संबंध बनाने का सर्वोतम समय सुबह 3 बजे से पहले का है.

रात के समय खुले बाल करके ना सोए: पुराने समय में कहा जाता था कि लड़कियों को रात के समय खुले बाल करके नहीं सोना चाहिये. इसके पीछे भी एक बहुत बड़ा कारण था ऐसा इसलिए कहा जाता था क्योंकि रात को खुले बाल करने वाले लोगों को नकारात्मक शक्तियां अपनी और ज्यादा जल्दी आकर्षित करती है.

इन नकारात्मक शक्तियों से बचने के लिए रात के समय महिलाओं को बाल बांधकर सोना चाहिए. महिलाओं के साथ-साथ जिस भी पुरुष की चोटी होती है उन पुरुषों को भी रात के समय बाल बाँधकर सोना चाहिए.

रात के समय ना गुजरे चौराहों से:  चौराहा उस सड़क को कहा जाता है जहां पर 4 सड़के आपस में आकर मिलती है. इन चौराहो पर भूल के भी रात के समय नहीं जाना चाहिये. माना जाता है कि रात के समय चौराहो पर लोग टोने-टोटके और तांत्रिक क्रियाएं करते है.जिन भी लोगों को अपने घरों से इन नकारात्मक शक्तियों को दूर करना होता है वो इन चौराहों पर टूने-टोटके करके फेंक देते है और रात के समय उस रास्ते से गुजरने वाले इंसान के शरीर में बुरी आत्माओं का साया आ जाता है.

इन चौराहो पर नकारात्मक शक्तियों का वास हो जाता है. इसके इलावा रात के अंधेरे में इन सभी शक्तियों का प्रभाव और भी तेज हो जाता है. इसलिए अगर आप भी रात के समय ऐसे किसी चौराहे में जाने की सोच रहे है तो जल्द ही आपकी जिंदगी में तूफ़ान आने वाला है.

रात को ना लगाए सेंट: कुछ लोग रात के समय सेंट या इत्र लगाकर सोते है.शास्त्रों के अनुसार हमे सेंट लगाकर नहीं सोना चाहिए.ऐसा करने से हमे बुरे सपने भी आते है और रात को सेंट से आने वाली खुशबू नकारात्मक शक्तियों को जल्दी से अपनी और आकर्षित करती है.

पुराने समय से ही कहा जाता है कि जब आप रात को सोने जाए तो उससे पहले आपको अपने हाथ और पैर धोने चाहिये. ऐसा करने के बाद आपको भगवान का स्मरण करना चाहिए, ताकि आपको सोने के बाद बुरे-बुरे सपने ना आए. इसके अलावा रात के समय भगवान का स्मरण करने से नकारात्मक शक्तियां आपसे दूर रहेंगी.

रात को ना मिले किसी भी अनजान पुरुष या स्त्री से: रात के समय किसी भी पुरुष को किसी अनजान महिला या किसी भी महिला को किसी भी अनजान आदमी से अकेले में नहीं मिलना चाहिए. यहाँ तक किसी भी महिला और पुरुष को बुरी संगति वाले इंसान और शराबियो से रात के समय दूरी बनाकर रखनी चाहिए. अगर आप ऐसा नहीं करते तो इससे आपकी ही हानि होगी और साथ ही आपकी चारों ओर बदनामी भी होगी.

लड़के इस वीडियो को ना देंखे क्योंकि इसको देखने के बाद…